भोजपुरी गाने सेक्सी में

गोकुळ दूध संघ इलेक्टिव रेसुलत

गोकुळ दूध संघ इलेक्टिव रेसुलत, रीमा ने मुहँ से कुछ कहने की कोशिश की लेकिन उसके मुहँ में तो कपड़ा बंधा हुआ था इसलिए आवाज बस घुट कर रह गयी | रीमा बेबस सी लाचार दरी सहमी बैठी थी - क्या चाहिए तुम लोगो को बोलो न कितना पैसा चाहिए. मै देने के लिए तैयार हूँ | प्लीज ये सब मत करो |

जग्गू - ज्यादा मत उछलो रीमा मैडम, आज तुमारे जिस्म के एक एक रोम का रस पीकर ही मुझे शांति मिलेगी | आज अकेला नहीं हूँ, मसल दी जावोगी किसी चींटी की तरह | रीमा - ह्हाआआआआआ ममामाममामा ईईईईईईईईई प्लीज क्यों मेरी गांड को फाड़ कर रख देने पर तुले हुए हो | हाय मै मर जाउंगी कितने पत्थर दिल हो जरा भी दया नहीं आती मुझ पर | गांड मारने को क्या दे दी मेरी जान ही ले लोगे क्या |

बात आई गयी हो गयी कुछ दिन बीत गए | कुछ दिन रीमा सतर्क रही | उसके फ़ोन में जीपीएस हमेशा ऑन रहता और पुलिस ने भी उसके फ़ोन को सर्विलांस पर डाल रखा था | रीमा ने ये बात अनिल को नहीं बताई गोकुळ दूध संघ इलेक्टिव रेसुलत कान्स्टेबल- लगता है मेडम, अपने घर वालों को बताना पड़ेगा, ये सोचकर परेशान हैं... बयान लिख रहे। कान्स्टेबल ने कहा। उसकी बात बिल्कुल सही थी लेकिन ये बात तो मेरे दिमाग में अभी तक आई ही नहीं थी।

गूगल क्यों नहीं चल रहा

  1. जीजाजी ने दोनो हाथो से नीरू की कमर पकड़ी हुई थी और डॉगी स्टाइल मे नीरू को चोदते रहे. नीरू की सिसकिया चालू हो चुकी थी. वो सिसकिया ना तो दर्द भरी थी और ना ही मज़े से भरी.
  2. मुझे पता था पहले से ही यहां क्या होता है इसीलिए मैंने यहां पर रहकर के कॉन्ट्रैक्ट किलिंग शुरू कर दी | बेवफा बेवफा निकली तू
  3. इससे बेखबर दोनों बहुत ही गहरी नींद में सोते रहे | रीमा को पता नहीं चला लेकिन रात में जितेश का खास आदमी आ गया | उसे कच्ची नीद में उठा दिया | हाल ही में सोया जितेश ने आंखे खोलकर देखा तो उसका खास आदमी गिरधारी था | उसने झट से रीमा को चादर के हवाले किया और अपने ऊपर भी एक चादर लपेट ली | के सामने एक अप्सरा की चूत थी | रीमा ने अपनी चूत को थोडा और फैलाया और उस गुलाबी सुरंग के मुहाने के सीधे दर्शन करा दिए जितेश का लंड कुछ देर में जिस पनाहगाह में आराम फरमाएगा |
  4. गोकुळ दूध संघ इलेक्टिव रेसुलत...नीरु: बेशरम कही के, तुम्हे बड़ा चेक करने हैं मेरे अन्दर के कपडे। अभी थोड़ी देर पहले ही बाथरूम करके आई थी , थोड़ा लग गया होगा। तुम मुझ पर शक़ कर रहे हो? रोहित - हेल्लो तुम फिर से कही खो गयी, स्कूल वाला प्रोजेक्ट परेशान कर रहा है, इतना कहते ही रोहित ने रीमा को अपनी तरफ खीच लिया |
  5. जीजाजी के आने से पहले मैं जाकर अटॅच्ड वॉशरूम मे छूप गया. जीजाजी कमरे मे आए और नीरू ने दरवाज़ अंदर से लॉक कर दिया. फ़ोन - तू मुझे बहुत हलके में ले रही है | पिछली बार जनरल स्टोर वाले हब पर पार्किंग लोट में तू फिसल गयी थी लेकिन इस बार तू नहीं बचेगी |

सोनाक्षी सिन्हा की चुदाई वीडियो

गिरधारी कुछ देर तक रीमा के हुस्न को घूरता रहा | उसका लंड फिर से तनने लगा | उसे रीमा बहुत अच्छी लग रही थी | इतनी अच्छी की उसके लिए सीने पर गोली खा ले |

ऋतू दीदी ने निराशा में अपना मुह झुका लिया और निरु ने उनके कंधे पर हाथ रख उनको सान्त्वना दी। यह सवाल पुछ मैंने बेवकूफ़ी कर दी थी और मैंने तुरंत उन सब से माफ़ी मांगी। नीरव ने भी उसका नया बिजनेस अच्छी तरह से सेट कर लिया था और उसने जीजू को साथ में ले लिया था। जिस वजह से जीजू के फाइनेंसियल प्राब्लम कम हो गये थे। नीरव ने मेरे मम्मी-पापा को हमारे साथ रहने को कह दिया था, लेकिन वो अभी तक आए नहीं थे।

गोकुळ दूध संघ इलेक्टिव रेसुलत,नीरव के जाने के बाद मैं सोच में पड़ गई की ऐसा क्या काम आया होगा की नीरव को इस वक़्त जाना पड़ा। घर का तो कोई काम नहीं होगा, नहीं तो नीरव मुझे बता के जाता। रूम के अंदर दो पलंग थे एक पे तो आंटी थी, मैंने अंकल को दूसरे पलंग पे सोने को कहा।

दीदी- मैंने तुम्हारे साथ जो किया था वो याद आता है तब मुझे अपनी मूर्खता पे गुस्सा आता है। अनिल को देरी हो रही है, बाद में फोन करती हूँ बाइ... इतना कहकर दीदी ने काल काट दी।

रीमा - कितने आराम से पूरा लंड पेल रहे हो फिर भी कह रहे हो कसी गांड है मेरी | मुझसे पूछो, गांड तो मेरी मारी है, पूरी गांड में ऐसे लग रहा है जैसे किसी ने नश्तर डालकर चीर डाला हो |लड़कियों से बात कराओ

रोहिणी - मुझे बुद्धू मत बना, मै उस रोहित की दीदी हूँ, जिसने तेरे जिस्म की आग बुझाई है | और तेरे अन्दर बने कोपभवन से तुझे बाहर निकाला है मुझसे चालाकी नहीं | दीदी उन्होंने मुझे पूरा का पूरा नंगा देख लिया | सुबह जब अहसास हुआ तो बड़ी शर्म आई मुझे, इसलिए इधर प्रियम का हाल चाल लेने भी नहीं आई |

रीमा अभी भी दोहरे दर्द में डूबी हुई थी और वो दोनों अपने अपने अहम् में नूरा कुश्ती शुरू कर रहे थे | जितेश और गिरधारी की इस लडाई में रीमा की ही वाट लगनी थी दोनों तरफ से |

गार्ड तो आधा मधहोश पहले से ही था आधा उसे रीमा ही हद से ज्यादा कामुक बातो ने कर दिया था - मैडम आपके चूतड़ है भी कमाल के, रुई की तरह नरम गद्देदार मांसल चूतड़, जो पीछे से आपको चोदता होगा कसम पैदा करने वाले की उसे तो बहुत मजा आता होगा |,गोकुळ दूध संघ इलेक्टिव रेसुलत रामू जोरों से हँसने लगा और बोला- क्या मेमसाब... पैसे का क्या करेगा अपुन? दारू पिएगा, रंडीबाजी करेगा ना... और वो दोनों चीज आप में है। आप शराब और सबाब दोनों का नशा हो मेमसाब.. कहते हुये रामू ने अपना लिंग मेरी योनि पे टिकाया। रामू ने अपना लिंग मेरी योनि की बाहरी दीवालों पर रगड़ा।

News