हॉट सेक्सी वीडियो कॉम

अण्णाभाऊ साठे चे फोटो

अण्णाभाऊ साठे चे फोटो, ओहहहहहह नहीं पिता जीईई आप अपनी खवाहिश पूरी कर ले नीलम को उस वक्त अपने ससुर का लंड जन्नत का मजा दे रहा था । जिस वजह से वह अपने ससुर के लंड के हटते ही अपने चूतडों को ऊपर की तरफ उछालते हुए चिल्लाकर बोली । मानिषा ने बाथरूम के क़रीब पुहंचकर दरवाज़े को हल्का धक्का दे दिया । दरवाज़ा अंदर से बंद नहीं था इसीलिए वह खुल गया, अनिल बिकुल नंगा होकर शावर के नीचे नहा रहा था । मनीषा का जिस्म अपने पिता को नंगा देखकर गरम होने लगा ।

आह्ह्ह्ह भैया यह आप क्या कर रहे हो। मुझे अपने पूरे शरीर में कुछ हो रहा है शीला ने अपनी चूचि के दाने को अपने भाई के मुँह में जाते ही ज़ोर से सिसकते हुए कहा। दीदी हमें आपके ज़ख़्म को अपनी जीभ से चाटना होगा । क्योंकी थूक से ज़ख़्म जल्दी ठीक हो जाता है नरेश ने अपनी बहन की बेचैनी को देखकर जल्दी से बोला।

ओहहहह बेटी क्या चूभ रहा है तुम्हें? अनिल अपनी पोती की बात सुनकर उत्तेजना के मारे उसकी ब्रा को उसकी चुचियों से हटाकर अपने हाथों से सहलाते हुए बोला। अण्णाभाऊ साठे चे फोटो आहहह भैया मुझे बुहत अच्छा लगा था । वैसे ही करो ना कंचन ने उत्तेजना के मारे अपने चूतडो को उछालते हुए कहा।

ग्रुप में चुदाई

  1. ओहहहह बदमाश तुम ऐसे नहीं मानोगे। अगर तुम्हें इतबार नहीं आता तो तुम इन्हें दबा कर देखो दूध होगा तो निकल आयेगा मनीषा ने अपने बेटे का हाथ अपनी चुचियों पर पडते ही सिसकते हुए कहा।
  2. शीला ने अपने भाई की बात सुनकर अपनी दोनों टांगों को पूरी तरह से फ़ैला दिया । शीला अपनी चूत को अपने भाई के सामने नंगा होने के अहसास से बुरी तरह उत्तेजित हो रही थी। जिस वजह से उसकी चूत बुहत ज्यादा पानी टपका रही थी। సెక్స్ కథలు తెలుగులో
  3. ज्योति तो वासना में पागल हुई जा रही थी. शायद अपने ही बाप से चुदवाने के एहसास ने उसकी वासना को और भड़का दिया था. महेश अपनी बेटी ज्योति के चूतडो को पकड़ के ज़ोर ज़ोर से धक्के मारते हुए बोले। आआह्ह्ह्ह माँ क्या गज़ब है आपकी चूत कितनी बड़ी और फूली हुयी है और बेचारी काले बाल इसे और ज़्यादा सूंदर बना रहे है विजय ने अपनी माँ की चूत को देखकर अपने लंड को ज़ोर से हिलाते हुए उसकी तारीफ करते हुए कहा।
  4. अण्णाभाऊ साठे चे फोटो...अब नंगी चूत देख कर विजय उसको किस करने लगा और अपनी पूरी जीभ चूत के अन्दर डाल कर चूसने लगा। विजय की पूरी जीभ चूत के बहुत अन्दर तक चली जा रही थी.. कंचन भी मस्त हो कर अपनी चूत को उठा रही थी। भइया ज्यादा मस्का मत लगाओ कोमल दीदी के बारे में बात करनी है कंचन ने अपने भाई की बात को सुनकर हँसते हुए कहा।
  5. च तो क्यों छोड़ा अपनी बेटी को अपने इस लंड को डाल देते अपनी बेटी की चूत में रेखा ने जानबूझकर अपने पति को जोश दिलाते हुए कहा। शीला बस में कोई हंगामा खडा करना नहीं चाहती थी इसीलिए उसने चश्मू को देखकर गुस्से से अपना चेहरा फिर से दूसरी तरफ कर लिया । कुछ देर तक तो शीला को कुछ महसूस नहीं हुआ मगर थोडी देर बाद फिर से वही हाथ का स्पर्श उसे अपने चूतडों पर महसूस हुआ। शीला को कुछ समझ में नहीं आ रहा था की वह क्या करे ।

देहाती वीडियो चुदाई

ओहहहहह बेटे नहीं मैं अपने मुँह से नहीं बोल सकती मगर मैं तुम्हें इस वक्त रोक भी नहीं सकती रेखा ने अपने बेटे के मुँह पर अपने चूतडों को उछालते हुए बोली।

अब दोनों ही नंगे हो चुके थे और कंचन विजय के ऊपर लेटी हुई थी.. सो विजय का लंड उसकी चूत से सटा हुआ था.. और लंड खुद ही अपना रास्ता ढूँढ रहा था। हँस साले हँस मगर मैं आज मामी की गांड ऐसे मारूँगा के साले तुम भी सारी ज़िंदगी याद रखोगे नरेश ने विजय को हँसता हुआ देखकर कहा।

अण्णाभाऊ साठे चे फोटो,वो तो मैं हूँ ज्यादा तकलीफ हो तो मैं साफ़ कर दूँ विजय ने आगे बढ़्ते हुए कहा इससे पहले की कोमल कुछ कहती उसने शावर को ऑन कर दिया और अपनी बहन को बाज़ू से पकडते हुए सीधा खड़ा कर दिया।

मम्मी आप फिक्र ना करे, मैं बिल्कुल ध्यान रखूंगा। वैसे मम्मी आप अगर कभी मेरे साथ चले तो कोई भी आपको अपने प्रोडक्ट के विज्ञापन के लिए रख लेगा!!

साली रंडी मुझे शर्म करने को कहती हो और तुम खुद जो अपने बेटे के सामने नंगी लेटकर अपनी चूत में लंड पेलवा रही हो तुम्हें शर्म नहीं आती नरेश ने अपनी माँ की बात सुनकर गुस्से से अपनी माँ की गांड में अपनी एक ऊँगली ड़ालते हुए कहा।அண்ணனின் மனைவியை திருமணம் செய்த நடிகர்

रेखा के जाने के बाद नरेश भी बेड पर लेटकर आराम करने लगा। मगर उसे बार बार यह ख़याल आ रहा था की इस वक्त कंचन और उसके मामा जाने क्या कर रहे होंगे । बेटे मालिश करो न क्या देख रहे हो मनीषा ने कुछ देर तक चुप होकर बैठने के बाद कहा । नरेश ने अपनी माँ की बात सुनते ही अपने हाथ में तेल को लगाकर अपनी माँ के मोटे मोटे चूतडों की मालिश करने लगा, नरेश अपनी माँ के चूतडों की मालिश करते हुए जानबूझकर उसकी गांड के छेद को अपनी उँगलियों से टटोल रहा था ।

मोबाइल बंद होते ही नरेश उठ कर पिंकी के बिल्कुल पास बैठ गया और पिंकी के बदन के साथ सटते हुए उसको अपने फ़ोन में एक फनी विडियो क्लिप दिखाने लगा।

च बाबा सॉरी में जा रहा हूँ पर अपने भांजे के साँप के बारे में ज़रूर कुछ सोचना नरेश ने अपनी मामी को छोडते हुए शरारत से हँसते हुए कहा।,अण्णाभाऊ साठे चे फोटो विजय अपनी माँ से ऐसे बात करते हुए तुम्हें शर्म नहीं आती रेखा ने गुस्से से अपने बेटे को घूरते हुए कहा।

News