कधी हसणार आहे कधी रडणार आहे

बड़े लंड से चुदाई

बड़े लंड से चुदाई, तो उसने कहा- क्योंकि आज मैं तुम्हें अपनी सारी कहानी बताती हूँ, कहानी लंबी है इसलिए छुट्टी की पूछ रही थी। उस दिन भी तुमने मेरे आत्महत्या के प्रयासों के बारे में पूछा था ना? असल में यही सबसे बड़ा कारण है। विमल : नही मम्मी बस आज दिल कर रहा था आपसे बहुत प्यार करूँ, बाहर रहता हूँ, आपकी बहुत याद आती है. आपके प्यारे हाथों से बना बढ़िया खाना खाने को तो मैं तरसता ही रहता हूँ, आपसे तो बात करने के लिए भी छुट्टियों का इंतेज़ार करना पड़ता है.

कहते हैं न.. किसी भी लड़की का दो बार जन्म होता है, एक जब वो पैदा होती है और दूसरी बार जब शादी होकर अपने पति के पास आती है और पति उसे स्वीकार लेता है। सुहागरात बड़ी ही अनोखी रस्म होती है, इसके मायने मैं अब समझ पाई हूँ। सुनीता से और सहा नही जाता और वो विमल को अपने उपर खींच कर पागलों की तरहा उसके होंठ चूसने लगती है और अपना एक हाथ नीचे ले जाकर उसके लंड को पकड़ लेती है जो खंबे की तरहा खड़ा हुआ था.

निशा- मुस्कुरा अरे मेने जिसका लंड देखा है उसे तू नही जानती है वह ग़लती से मुझे नज़र आ गया था, पर तूने क्या बड़े लंड से चुदाई ऋतु को साँस लेने में तकलीफ़ होने लगी, पर वो रमण का साथ देती रही बिल्कुल एक रंडी की तरहा और ज़ोर ज़ोर से उसका लंड चूसने लगी.

सेक्सी वीडियो सेक्स वीडियो सेक्स वीडियो

  1. मैं निढाल हो कर बिस्तर पे चित हो गई और वो सतसट फिर मुझे चोदने लगा. जब उसका छूटनेवाला था तो उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और मूठ मारने लगा एक मिनट के अंदर ही उसके वीर्य की पिचकारी मेरे उपर गिरने लगी.
  2. देख कर खड़ा हो गया, वह अपनी चूत के एक-एक बाल को बड़े प्यार से साफ कर रही थी और उसकी चूत से जैसे-जैसे बाल साफ हो tamil xxx கேர்ள்ஸ் xxx vedos
  3. शांति समझ जाती है उसे क्या करना है ..दोनों की अंडरस्टॅंडिंग इतनी अच्छी थी ..बोलने की ज़रूरत नहीं होती ..बस सिर्फ़ स्पर्श और आँखों की ज़ुबान चलती .. फिर एक दिन जेठानी ने कहा- चल अब तुझे अपने पति से रगड़वाते एक महीना हो गया.. अब अपना वादा पूरा कर, तेरे जेठ को मैंने कब से रोक रखा है, अब और नहीं रोक सकती।
  4. बड़े लंड से चुदाई...थोड़ी देर में ऋतु अपनी आँखें खोलती है, तो रवि उसकी नाइटी को उसके जिस्म से अलग कर देता है. ऋतु की नज़र जब रवि पे पड़ती है तो शर्म के मारे अपनी आँखें बंद कर लेती है. कामया को पता ही नही चलता कब विमल उसकी लिंगेरी को उतार देता है, और वो मात्र पैंटी में उसकी बाहों में छुई मुई की तरहा लरजती जा रही थी.
  5. शशांक अपनी मोम से गले मिलता है , अभी भी वो लक्ष्मण रेखा बरकरार है ..पर उसकी आँखों में इस पतली सी रेखा बरकरार रखने का कोई दर्द , कोई पीड़ा नहीं , और ना उसके शरीर में किसी भी तरेह का कोई तनाव या कोशिश की झलक है ..यह बस अपने आप हो जाता है किमी ने एक बार फिर साथ छोड़ दिया और उसी वक्त उसने मेरा लिंग अपने दांतों में जकड़ लिया। मैं चीख पड़ा, किमी कांपते हुए झड़ गई, उसके अमृत की कुछ बूँदें मेरे जीभ में लगीं, पर मैंने सारा रस नहीं पिया क्योंकि मुझे अच्छा नहीं लगता।

देसी आदिवासी सेक्सी

अब मैने अपने लंड को दूसरा झटका दिया अपनी पूरी ताक़त के साथ जिस से मेरा पूरा लंड मेरी छोटी बेहन की फुद्दि मे घुस गया और उस के तड़पने की रफ़्तार भी पहले से ज़्यादा हो गई

ऐसा होना तो नहीं चाहिये... ऐसा कभी सुना नहीं मैंने... वो सोचते हुए बोली और फिर सहसा उसकी नज़र मेरी पैंट के निचले भाग पर चली गई और फिर जल्दी से वो दूसरी तरफ देखने लगी। कुछ देर खामोशी रही और फिर मैं धीरे-धीरे कराहने लगा। वो अजीब सी नज़रों से मुझे देखने लगी। मेसेज रवि का था, बस इतना ही लिखा था कि वो घर वापस नही आ रहा, रात को अपने दोस्त के घर रुकेगा. ऋतु को समझते देर नही लगती कि वो बहुत नाराज़ है इसलिए घर नही आ रहा. उसका चेहरा उदास हो जाता है और आँखों से फिर नदी बहने लगती है.

बड़े लंड से चुदाई,‘गुड, चलो अब आपके इनाम की बारी है’ कह कर ऋतु घुटनो के बल बैठ जाती है और रमण के लंड को मुँह में भर के चूसने लगती है.

नहीं मोम ..अभी और भी सुनिए मैने यह सब बात आप को एक औरत की तरेह देख कर बताया ...आप . मेरे लिए सुंदरता की देवी हैं ....

विमल को अपने कानो पे भरोसा नही हो रहा था कैसी भाषा बोल रही थी उसकी माँ, दिन में कितनी भोली दिखती है कोई सोच भी नही सकता कि ऐसे भी बोलती होगी.सेक्सी ऑंटी फोटो

जी सर...कुछ सीरीयस तो नहीं है ना सर...अपने कंपनी के डॉक्टर को बुलाऊं क्या ..??उस ने चिंतित होते हुए कहा ... ओह यस भैया ..यू आर ग्रेट ....कितनी देर तक हम पताखे और फूल्झड़िया चला रहे थे ...उफफफ्फ़ मज़ा आ गया ....

राम्या को अब ज़्यादा देर नही लगी और वो भरभराती हुई झड़ने लगी – सुनीता उसका सारा रस पी गई. राम्या निढाल हो चुकी थी उसकी आँखें बंद हो चुकी थी. इस से पहले की राम्या को ऑर्गॅज़म के बाद होश आता. सुनीता ने उसके जिस्म पे एक चद्दर डाल दी और कमरे से बाहर निकल गई.

कामया तो घोड़े पे नीचे उतरने लगती है और सोनी मस्ती मारते हुए रमेश के साथ नीचे उतरती है पैदल, जगह जगह रुक कर वो सेक्सी पोज़ में अपनी फोटो खिचवाती रहती है. उसकी अदाएँ देख कर रमेश की हालत खराब होने लगती है, उसकी पॅंट में तंबू बन जाता है, जिसे छुपाने के लिए वो अपनी शर्ट बाहर निकाल लेता है.,बड़े लंड से चुदाई शाम तक हम ने अपी को 2 बार मैने और 3 बार सफदार ने चोदा और शाम को जब हम घर के लिए निकले तो अपी से ठीक तरह से चला भी नही जा रहा था

News